9 यूनिकॉर्न्‍स/वेंचर कैटालिस्‍ट्स ने स्‍टार्टअप्‍स के लिए अपने दूसरे डीडे की घोषणा की

36 अनूठे स्‍टार्टअप्‍स खुद को 1500 वैश्विक निवेशकों के समक्ष प्रस्‍तुत (पिच) करेंगे,

डीडे 2 को अपने पहले डेमो डे का रिकॉर्ड तोड़ने की उम्‍मीद है जिसमें 28 स्‍टार्टअप्‍स ने 126 मिलियन डॉलर की राशि जुटाई थी

नई दिल्‍ली।। अपने पहले डेमो डे को मिली अपार सफलता के बाद, भारत के अग्रणी एक्‍सीलरेटर फंड 9यूनिकॉर्न्‍स और अर्ली-स्‍टेज निवेशक वेंचर कैटालिस्‍ट्स ने अपने दूसरे वैश्विक डेमो डे (डीडे 2) के लॉन्‍च की घोषणा की है। इस डीडे का शुभारंभ 24 मार्च 2022 को होगा।

डीडे 2 में 36 चयनित अर्ली एवं ग्रोथ स्‍टेज के स्‍टार्टअप हिस्‍सा लेंगे जोकि प्रतिष्ठित वैश्विक एवं घरेलू निवेशकों के समक्ष अपनी बिजनेस पिच को प्रस्‍तुत करेंगे। इस दो दिवसीय कार्यक्रम की शुरुआत 18 चुने गए स्‍टार्टअप्‍स के प्रदर्शन के साथ होगी, इसमें से प्रत्‍येक स्‍टार्टअप 9 यूनिकॉर्न्‍स एवं वेंचर कैटालिस्‍ट्स से होंगे।

डीडे का विचार यह सुनिश्चित करने के लिए लाया गया है कि स्‍टार्टअप्‍स मजबूत, मापनीय एवं पूंजी जुटाने में योग्‍य वेंचर्स (उपक्रम) हैं। डेमो डेज़ भारत के स्‍टार्टअप पारितंत्र का अत्‍यावश्‍यक हिस्‍सा बनते जा रहे हैं। इस पारितंत्र में 50 हजार से स्‍टार्टअप्‍स और 90 यूनिकॉर्न्‍स मौजूद हैं जोकि भारी मात्रा में वैश्विक निवेश को आकर्षित करते हैं। उद्योग की विभिन्‍न रिपोर्ट्स के मुताबिक 2021 में 36 बिलियन डॉलर का रिकॉर्ड निवेश दर्ज किया गया। यह आंकड़ा बड़े मूल्‍यवान एवं मल्‍टी-बिलियन डॉलर के व्‍यावसायों को बनाने में स्‍टार्टअप्‍स की अपार क्षमता को दर्शाता है।

इस कार्यक्रम में भागीदारी करने वाले स्‍टार्टअप्‍स इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी), स्‍वास्‍थ्‍यतकनीक (हेल्‍थटेक), उपभोक्‍ता इंटरनेट, डेटा विश्‍लेषण, एआइ, फिनटेक (वित्‍तीय तकनीक), एग्रीटेक (कृषि तकनीक) और एडटेक (शिक्षा तकनीक) आदि जैसे विभिन्‍न क्षेत्रों से ताल्‍लुक रखते हैं।

डॉ अपूर्व रंजन शर्मा, सह-संस्‍थापक, 9यूनिकॉर्न्‍स एवं वेंचर कैटालिस्‍ट्स ने कहा, “हम हमेशा ऐसे तरीकों की तलाश में रहते हैं जोकि डी डे सहित विभिन्‍न पहलों के माध्‍यम से स्‍टार्टअप संस्‍थापकों की कड़ी मेहनत को जीवंत रखते हैं। दो दिनों के पिचिंग सत्रों के साथ, डीडे स्‍टार्टअप्‍स को बड़े राउंड्स में पूंजी जुटाने में मदद करता है। डीडे में खुद को प्रस्‍तुत करने से पहले, हम स्‍टार्टअप्‍स के साथ व्‍यापक जुड़ाव बनाते हैं। इससे उन्‍हें उनके उत्‍पाद, टीम को और विकसित करने, उनके व्‍यावसायिक मॉडल में संशोधन करने और उच्‍च विकास वाले व्‍यावसाय में उनका दायरा बढ़ाने में सहायता मिलती है। हमारे पहले डेमो डे को भारी कामयाबी मिली थी और हम दूसरे डीडे के साथ अपने खुद के रिकॉर्ड को तोड़ना चाहते हैं।”

डीडे का संचालन वर्चुअल तरीके से किया जाएगा। इसके द्वारा दो दिनों के दौरान विभिन्‍न बेजोड़ अवसरों की पेशकश की जाती है। यहां स्‍टार्टअप्‍स को बेहतर पहुंच मिलती है और स्‍टार्टअप्‍स, वैश्विक एवं घरेलू वेंचर कैपिटल कंपनियों, पारिवारिक कार्यालयों, यूनिकॉर्न के संस्‍थापकों, एंजेल निवेशकों एवं सीएक्‍सओ के बीच आपसी संवाद होता है।

दूसरे डीडे में इस तरह के 1500 से अधिक निवेशकों के भागीदारी करने की संभावना है, जोकि पहले कार्यक्रम में शामिल निवेशकों की संख्‍या से अधिक है। पहले डीडे का आयोजन पिछले साल अगस्‍त में किया गया था जिसमें 900 निवेशकों ने हिस्‍सा लिया था। यह कार्यक्रम बेहद सफल रहा था जिसमें 32 स्‍टार्टअप्‍स ने भागीदारी की और इनमें से 28 ने लगभग 126 मिलियन डॉलर की रकम जुटाई। फिनटेक, ईकॉमर्स और एसएएएस (SaaS) सेक्‍टर्स ने सबसे अधिक फंडिंग को आकर्षित किया। भागीदारी करने वाले लगभग 45 प्रतिशत स्‍टार्टअप्‍स दूसरी बार के या अनुभवी संस्‍थापक थे।

बड़े राउंड में पूंजी (10 मिलियन डॅलर से अधिक) जुटाने वाले कुछ स्‍टार्टअप्‍स में शामिल हैं – क्‍लब,एक राजस्‍व आधारित वित्‍तीय कंपनी; काउटलूट, एक सामाजिक वाणिज्‍य मंच; इवेनफ्‍लो, एक थ्रेसियो-स्‍टाइल का ईकॉमर्स रोलअप और रूटर (एक गेमिंग स्‍टार्टअप) आदि।

9यूनिकॉर्न्‍स की टीम और वीकैट्स ने स्‍टार्टअप्‍स को डेमो डे की तैयारियां शुरू करने में मदद की। इसमें 60 सेकंड के भीतर पिच करने के लिए संस्‍थापकों के प्रशिक्षण से लेकर व्‍यापार के पुनर्गठन तक में दी गई सहायता शामिल है।

एक ई-कॉमर्स रोल-अप इवेनफ्‍लो के सहसंस्‍थापक श्री उत्‍सव अग्रवाल ने पहले डीडे को लेकर अपना अनुभव साझा करते हुए कहा, “9यूनिकॉर्न्‍स और पूरी टीम ने पूंजी जुटाने की प्रक्रिया (इक्विटी एवं ॠण दोनों) में हमारा मार्गदर्शन करने में काफी मदद की। उन्‍होंने इसमें भी हमारी सहायता की कि क्षमता योग्‍य संरचना के बारे में कैसे सोचा जाए और कारोबार बढ़ाने की प्रक्रिया के दौरान टैलेंट की भर्ती कैसे की जाए। जब भी हमें जरूरत होती है, 9यूनिकॉर्न्‍स की टीम को बस एक कॉल करना होता था। फिर चाहे यह कठिन समय के दौरान परेशानियों को समझना हो या अच्‍छे समय में जश्‍न मनाने के लिए विस्‍तारित परिवार के रूप में हमारा साथ देना हो।”

इस बारे में, श्री अनुरक्‍त जैन, राजस्‍व आधारित फाइनेंस कंपनी क्‍लब के सह-संस्‍थापक ने कहा, “हम 9यूनिकॉर्न्‍स के बेहद आभारी हैं जिन्‍होंने हमें शुरूआत से ही बहुत सहयोग दिया और हम पर अपना विश्‍वास जताया। यह प्रयास भारत के प्रमुख राजस्‍व आधारित वित्‍तीय मंच बनने में हमारी मदद करने में बहुत महत्‍वपूर्ण हैं। 9यूनिकॉर्न्‍स ने पूंजी से परे क्‍लब बनाने में हमारी सहायता की और हम उनके शुक्रगुजार हैं जो उन्‍होंने हम पर बीते समय में अपना भरोसा कायम रखा और आगे भी यह विश्‍वास बने रहने की उम्‍मीद करते हैं।”

डॉ. अपूर्व रंजन शर्मा, अनिल जैन, अनुज गोलेचा और गौरव जैन द्वारा साथ मिलकर स्‍थापित किया गया मुंबई स्थित वेंचर कैटालिस्‍ट्स ग्रुप दूसरा सबसे बड़ा अर्ली स्‍टेज स्‍टार्ट-अप है जिसे कई सौदों का समर्थन प्राप्‍त है। 2021 में, वीकैट्स ग्रुप ने 207 सौदों को पूरा किया जोकि इसे भारत में सबसे बड़ी कंपनी बनाता है।