कब्रिस्तान नही होने पर दुसरे गांव मे दफ़नाया गया शव

कब्रिस्तान नही होने पर दुसरे गांव मे दफ़नाया गया शव

गाजीपुर बिरनो थाना क्षेत्र अंतर्गत रूहीपुर गांव मे कब्रिस्तान नही होने से यहां के एक बुजुर्ग को दफन करने के लिए दो गज जमीन भी नहीं मिल सकी। मजबूरी में परिजन वृद्घ के शव को बगल के गांव डांडी कला ले गए। यहां पर उन्हें सुपुुुर्द ए खाक किया गया।

बिरनो क्षेत्र के रूहीपुर गांव मे मुस्लिम समुदाय का एक ही परिवार है। मुस्लिम समुदाय के मृत लोगों के दफन के लिए गांव में कब्रिस्तान नही है यह मुस्लिम समुदाय इस ग्राम सभा में 40 वर्षों से निवास कर रहा है सोमवार को मुस्लिम परिवार के रामजान अली 75 वर्ष पुत्र स्व बिराहीम अली का सोमवार की तङके सुबह इंतकाल हो गया। इंतकाल के बाद गांव में कब्रिस्तान नहीं होने पर माहौल गर्म हो गया घंटों चले ग्रामीणों के बीच बातचीत के बाद राजस्व विभाग से लेखपाल अखिलेश सिंह मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझाने की कोशिश करते रहे मुस्लिम परिवार गांव में ही कब्रिस्तान की मांग पर अड़ा रहा वही ग्रामीणों ने लेखपाल को 2 घंटे तक बंधक बनाए रखा काफी मशक्कत के बाद मुस्लिम परिवार को लेखपाल द्वारा बताया गया कि बगल के गांव डांडी कला में शव को दफनाया जाएगा और 15 दिन के बाद ग्राम सभा में कब्रिस्तान के लिए जमीनी उपलब्ध करा दी जाएगी ।