“समावेश और एकीकरण” के लिए ईगल स्पेशियली एबल्ड राइडर्स द्वारा फैशन शो

“समावेश और एकीकरण” के लिए ईगल स्पेशियली एबल्ड राइडर्स द्वारा फैशन शो

मंच के पीछे उत्साह और सकारात्मक ऊर्जा से भरपूर दिव्यांग मॉडल, उनके मेकअप आर्टिस्ट और डिजाइनर सभी एक्सा इटेड हैं, आखिरकार, यह कोई साधारण फैशन शो नहीं है। 20 जनवरी को इंडिया इस्लामिक कल्चरल सेंटर, लोधी रोड, नई दिल्ली में डी के एस डी कपूर लाडली नूर फाउंडेशन की फाउंडर सुल्ताना परवीन और रवि महाजन (एबीपी न्यूज मीडिया पर्सनालिटी) के द्वारा एक शाम तिरंगे के नाम कार्यकर्म का आयोजन किया गया, इस कार्यकर्म में ईगल स्पेशियली एबल्ड राइडर्स के दिव्यंगो द्वारा फैशन शो किया गया, इस फैशन शो का उद्देश्य दिव्यांेगों को “समावेश और एकीकरण” के बारे में जागरूकता फैलाना था।

फैशन शो में पूजा, लक्ष्मी, मुफ्लिहा, डॉ. दिव्या, जागृति, जसकौर, भागीरथी, हीना, तेजपाल, संदीप, रमेश, नीरज, जीतेन्द्र, मोहित, वसीम, गोविंदा और बिहार से सुपर पैरा मॉडल पूनम कुमारी ने भाग लिया।

पूनम (बिहार प्रदेश अध्यक्ष - ईगल स्पेशियली एबल्ड राइडर्स) का कहना है की अपनी शारीरिक अक्षमताओं को नज़र नदाज़ करके कठोर से कठोर लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है।

आमिर संस्थापक - ईगल स्पेशियली एबल्ड राइडर्स को राष्ट्रीय तिरंगा अवार्ड दे कर सम्मानित किया गया इनका कहना है की सुंदरता के अपने सतही मापदंडों के लिए जाने जाने वाले इंड्रस्टी  के लिए, दिव्यांग फैशन शो ने कई रूढ़ियों को तोड़ा है, दिव्यांगो की प्रतिभा को फैशन शो के माध्यम से प्रोत्साहित करने का असली श्रेय सिर्फ श्रीमती सुल्ताना परवीन को जाता है। 

दिव्यांग मॉडलिंग के बारे में बात करते हुए प्रसिद्ध एक्टर कुनाल राजपूत ने कहा यह फैशन शो मेरे दिल के बहुत करीब था, मुझे लगता है कि “समावेश और एकीकरण” के लिए काम करना बहुत महत्वपूर्ण है, दिव्यां ग लोगों के लिए कठिनाइयां और बाधाएं दूसरों की तुलना में बहुत अधिक होती हैं, इन सब मुश्किलों को पर करके मॉडलिंग की दुनिया में अपने लिए राह बनाना बहुत बड़ी बात है।

ईगल स्पेशली एबल्ड राइडर्स दिव्यांगों के सशक्तिकरण के लिए रेट्रोफिटेड स्कूटी द्वारा 15 से अधिक राज्यो में जागरूकता के लिए जा चुके है।