27 सूत्री माँगों के समर्थन में किया एक दिवसीय धरना प्रदर्शन

27 सूत्री माँगों के समर्थन में किया एक दिवसीय धरना प्रदर्शन

FCIESU, आँचलिक समिति द्वारा 07 मई 2024 को जारी भारतीय खाद्य निगम, उत्तर अंचल प्रबंधन के खिलाफ आन्दोलन नोटिस के तहत आज 12 जून 2024 को आँचलिक कार्यालय, नोएडा पर प्रबंधन की तानाशाही नीतियों के विरुद्ध 27 सूत्री माँगों के समर्थन में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया, जिसमे उत्तर अंचल के सभी क्षेत्रों पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली, मुख्यालय, उत्तराखण्ड, हिमांचल प्रदेश, जम्मू-काश्मीर एवं आँचलिक कार्यालय (3.), नोएडा के क्षेत्रीय अध्यक्ष, क्षेत्रीय सचिव, मण्डल अध्यक्ष एवं मण्डल सचिव सहित लगभग 500 कर्मचारियों ने शिरकत करते हुए प्रबंधन के खिलाफ रोष प्रकट किया।

FCIESU के अखिल भारतीय अध्यक्ष एस.एस. चट्ठा द्वारा  बताया गया कि "ID Act की धारा हमें स्ट्राइक से during conciliation रोकती है, धरना से नहीं। स्ट्राइक हमारे आन्दोलन कार्यक्रम का हिस्सा नहीं है। अतः, हमारा रोष-प्रदर्शन संवैधानिक और नीतिगत है प्रबंधन पिछले कुछ वर्षों में जिस प्रकार से दमनकारी रास्ते पर चल रही है, उसे यू ही सहन और नजरअंदाज नहीं किया जा सकता । पिछले वर्ष FCI (स्टाफ) रेग्युलेशन 22(2) के तहत 50 से ज्यादा प्रबंधको की जबरन सेवानिवृत्ति इसका सबसे बड़ा उदाहरण है"।

FCIESU के महासचिव, अभिनव कश्यप द्वारा यह बताया गया कि "आन्दोलन नोटिस जारी करने के उपरांत RLC(C), Noida के Conciliation Process के बावजूद उत्तर अंचल प्रबंधन के द्वारा ID ACT की धारा 33 का का उल्लंघन कर आंदोलन के दरम्यान निराधार और तानाशाही रूप को अख्तियार करते हुए लगभग 150 कर्मचारियों का स्थानांतरण आदेश निर्गत किया है और औ‌द्योगिक समरसता को ठेस पहुंचाया गया है"।

FCIESU के आंचलिक अध्यक्ष, संजीव जायसवाल ने यह अवगत कराया है कि "प्रबंधन द्वारा अपने ही नीतियों को ताक पर रख कर मनमाने तरीके से कार्य किया जा रहा है। हमारे कर्मचारी field में कम स्टाफ क्षमता होने के बावजूद दिन-रात काम करने के बाद भी SL/TL जैसी इनकी दमनकारी नीतियों का शिकार भी हो रहे हैं। जबतक प्रबंधन कर्मचारियों की जायज मांगो को सकरात्मक रूप में नहीं मानती है, तबतक हमारा आंदोलन कर्मचारी हितो की रक्षा हेतु जारी रहेगा"।

प्रबंधन की तानाशाही रवैये और यूनियन के माँगो के प्रति निष्क्रियता के विरुद्ध रोष प्रकट करते हुए FCIESU के आंचलिक सचिव (3.), श्री रौशन कुमार ने यह अवगत कराया है कि "आंदोलन के अगले कार्यक्रम के तहत दिनांक 14.06.2024 से पुरे उत्तर अंचल में "Work as per Rule" के तहत काम किया जायेगा तथा किसी भी तरह की वित्तीय हानि अथवा देशभर में Foodgrains की Operational मूवमेंट में होनेवाली असुविधा के लिए पूर्ण रूप से FCI Management जिम्मेवार होगी"।