कोरोना का एक साल - भारत ने कैसे लड़ी कोविड महामारी के ख़िलाफ़ जंग

कोरोना का एक साल - भारत ने कैसे लड़ी कोविड महामारी के ख़िलाफ़ जंग

भारत में कोविड-19 का पहला मामला पिछले साल 30 जनवरी को सामने आया था. उस वक्त चीन के वुहान से केरल की एक मेडिकल छात्रा वापस अपने घर लौटकर आई थी और उसमें कोविड-19 की पुष्टि हुई थी.

इससे पहले 2019 के आखिर में चीन ने अपने शहर वुहान में कोरोना वायरस के फैलने की जानकारी दी थी.

जनवरी से ही शुरू हुई सतर्कता

कोरोना वायरस के फैलने की खबरें आने के साथ ही भारत शुरुआत में ही यानी जनवरी मध्य से ही इसे लेकर सतर्क हो गया था. इसके बाद सरकार ने तुरंत ही ट्रैवल एडवाइज़री जारी करना और पाबंदियां लगाना शुरू कर दिया.

हेल्थकेयर रेस्पॉन्स के लिहाज़ से पहला कदम यह उठाया गया कि विदेश से आने वाले लोगों को क्वारंटीन किया जाए.