इस्कॉन दादरी: श्री रामचन्द्र भगवान के प्राणप्रतिष्ठा महोत्सव में युवा और जनता का उत्साह

इस्कॉन दादरी: श्री रामचन्द्र भगवान के प्राणप्रतिष्ठा महोत्सव में युवा और जनता का उत्साह

दादरी: आज दोपहर में हुआ श्री रामचन्द्र भगवान के प्राणप्रतिष्ठा महोत्सव ने इस्कॉन दादरी क्षेत्र को आत्मा और भक्ति की ऊर्जा से भर दिया। इस महोत्सव के दौरान देवों के समर्पण में भक्तों की भारी संख्या ने अपने श्रद्धाभाव और प्रेम का प्रदर्शन किया।

पहले ही दिन का आयोजन 12 बजे दोपहर हुआ हरि नाम इवेंट के रूप में, जिसमें इस्कॉन दादरी के भक्तों ने भगवद गीता और एच.डी.जी. एसी. भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद जी द्वारा लिखी गई छोटी किताबें बाँटी। इस धार्मिक सत्र में प्रसाद और प्रेरणा का संदेश बटोरा गया और लोगों को श्रीकृष्ण के नाम का जाप करने के लिए प्रेरित किया गया।

इस ध्यान में रहते हुए, शाम को हुई महोत्सव की मुख्य घटना में भी भक्तों का उत्साह देखा गया। कार्यक्रम की शुरुआत 3 बजे से हुई और 5 बजे तक चला, जिसमें कीर्तन, उत्सव, और भक्ति गतिविधियों का आयोजन किया गया। इसके बाद, 4:30 बजे से 5 बजे तक हुई आरती और दीपदान ने महकाया। समापन में, 5 बजे के बाद सभी को विशेष प्रसाद से नवाया गया, जिसने सभी को एक साथ जोड़ते हुए एक परम प्रेम भरे महौल में रंगा।

इस समय के दौरान, भक्तों ने मंदिर को शानदारी से सजाया और शाम को दीपों और लाइट से सजाया। सुंदरता का यह प्रदर्शन ने सभी को अच्छे से प्रभावित किया और इस धार्मिक आयोजन को और भी महत्वपूर्ण बना दिया।

इस समय के अद्भुत और आत्मिक सुबह के बाद, इस्कॉन दादरी के प्रति भक्तों का प्रेम और श्रद्धा ने इस महोत्सव को अद्भुत बना दिया है। इस अद्वितीय क्षण में आत्मा का मिलन होते ही, यह आयोजन नहीं, एक अनुपम अनुभव बन गया है