स्वास्थ्य का अधिकार केवल आयुर्वेद से ही संभव है - गुरु मनीष

स्वास्थ्य का अधिकार केवल आयुर्वेद से ही संभव है - गुरु मनीष

नोएडा।PNI News। आयुर्वेद की उपेक्षा करके स्वास्थ्य के अधिकार का उद्देश्य हासिल नहीं किया जा सकता है। यह बात कही प्रसिद्ध आयुर्वेदाचार्य तथा शुद्धि आयुर्वेद के संस्थापक गुरु मनीष ने। वे सेक्टर 29 स्थित नोएडा मीडिया क्लब में पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे।
गुरु मनीष ने कहा कि आयुर्वेद के साथ केंद्र सरकार सौतेला व्यवहार कर रहा है सरकार को चाहिए कि आयुर्वेद को करोड़ों से प्रचारित प्रसारित करें तथा पूर्ण सहयोग प्रदान करें।
उन्होंने कहा कि आज भी आयुष्मण भारत योजना के तहत सुरक्षा कवर सिर्फ सिर्फ एलोपैथिक इलाज तक सीमित है इसमें आयुर्वेद को भी शामिल किया जाना चाहिए
गुरु मनीष ने कहा कि राइट टू हेल्थ का वेब पोर्टल इसी उद्देश्य से लांच किया गया है ताकि विश्व के हर व्यक्ति को स्वास्थ्य का अधिकार हासिल हो सके।उन्होंने बताया कि राइट टू हेल्थ अब आपके हाथ विश्व का स्वास्थ्य ऑनलाइन पिटिशन लांच करने की घोषणा की
उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य का अधिकार दिलाने के लिए ऑनलाइन हस्ताक्षर अभियान भी शुरू किया गया है।

साथ ही कहा कि स्वास्थ्य का अधिकार ऑनलाइन पिटिशन का उद्देश्य भारत को स्वच्छ बनाना है जिसके जरिए भारतीयों को सशक्त बनाने कि उनकी अवधारणा है।
गुरु मनीष के अलावा डॉ सूयश प्रताप सिंह तथा डॉ निधि पुनिया भी मौजूद थी।