आंगनबाड़ी विभाग में इतना बड़ा झोल, शादी में ले रहे रिफाइन और दाल

गाजीपुर : बाल विकास पुष्टाहार विभाग में इस कदर भ्रष्टाचार है कि शहर परियोजना की सीडीपीओ विभाग के बाबू की शादी के नाम पर कई क्विंटल दाल और रिफाइंड खा गईं। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता से दो-दो पैकेट दाल व रिफाइंड इकट्ठा कराने संबंधी गत अप्रैल माह का वाट्सएप मैसेज वायरल हो रहा है। अधिकारियों ने इसका संज्ञान लिया है।

परियोजना में कुल 123 आंगनबाड़ी केंद्र हैं। सीडीपीओ ने प्रत्येक आंगनबाड़ी केंद्र से दो-दो पैकेट की मांग की। ऐसे में 246 पैकेट दाल और 246 पैकेट रिफाइंड इकट्ठा करने के लिए कहा था। करीब ढाई क्विंटल दाल और 246 लीटर रिफाइंड शादी के लिए मांगी थीं। काफी संख्या में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने निर्देश का पालन भी किया। कितना सामान इकट्ठा हुआ यह जांच में स्पष्ट होगा। हालांकि मैसेज वायरल होने के बाद विभाग में खलबली मची है। डीपीओ दिलीप पांडेय का कहना है कि इस मामले की जांच कराई जाएगी।

यह है वाट्सएप संदेश : दो पैकेट दाल दो पैकेट रिफाइंड आप लोग दे दीजिए और 19 को शादी है, आप लोग के दो पैकेट से उसका काम बन जाएगा और आप का कुछ नहीं बिगड़ेगा। यह पुण्य का काम है। शादी 19 अप्रैल 2022 को है। बेचारे का हेल्प कर दीजिए। एक जगह इकट्ठा कर लीजिए आप लोग तब हमें फोन करिए, अभिनव को बुलाएंगे ले जाएंगे ठीक।

बाबू अभिनव की मदद के लिए कहा था, लेकिन किसी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने नहीं दिया है। मैं कसम खाने को तैयार हूं। यह बदनाम करने की साजिश की गई है।

 सोना सिंह, प्रभारी सीडीपीओ।