मुख्यमंत्री योगी प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को लेकर जनपद में 2 दिवसीय सघन भ्रमण पर

मुख्यमंत्री योगी प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को लेकर जनपद में 2 दिवसीय सघन भ्रमण पर

मुख्यमंत्री योगी ने सघन दौरे के दौरान प्रथम चरण में जनपद में निर्माणाधीन नोएडा इण्टरनेशनल ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट जेवर का किया सघन स्थलीय निरीक्षण एवं बैठक, एयरपोर्ट के कार्यो को अतिरिक्त मशीनरी एवं मेनपाॅवर लगाकर निर्धारित समय से पहले रन-वे आरम्भ करने दिये निर्देश।

दूसरे चरण में मुख्यमंत्री पहुंचे एक्स्पो मार्ट, प्रधानमंत्री मोदी के कार्यक्रम को लेकर हैलीपेड, प्रदर्शनी क्षेत्र एवं मुख्य कार्यक्रम सभागार का गहन स्थलीय निरीक्षण करने के उपरांत प्रशासन एवं पुलिस के अधिकारियों के साथ बैठक करते हुये दिये आवश्यक दिशा निर्देश।

समस्त प्रशासनिक एवं पुलिस के अधिकारीगण विदेशी महमानों को कार्यक्रम में सुविधाजनक भाग दिलाने की करेंगे कार्यवाही, कार्यक्रम के दौरान यातायात को लेकर पुलिस के अधिकारी करें विशेष प्रबंध, सुरक्षा की दृष्टि से समस्त तैयारी कर ली जायें सुनिश्चित।

ग्रेटर नोएडा। उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 12 सितम्बर को एक्स्पो मार्ट ग्रेटर नोएडा मे वल्र्ड डेरी सम्मिट 2022 के शुभारम्भ कार्यक्रम मा0 प्रधानमंत्री जी के करकमलों के द्वारा किये जाने के सम्बंध में जनपद में 2 दिवसीय सघन भ्रमण पर पहुंचे। मुख्यमंत्री योगी ने अपने सघन भ्रमण के प्रथम चरण में जनपद में निर्माणाधीन नोएडा इण्टरनेशनल ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट जेवर पर पहुुंच कर निर्माणाधीन कार्यो एवं रन-वे का गहन स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण करने के उपरांत वही पर जेवर एयरपोर्ट से जुडे़ हुये अधिकारियों के साथ गहन बैठक करते हुये मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि निर्माण स्थल पर मशीनरी और संसाधन बढ़ाए जाए तथा निर्माण में प्रगति लायी जाए।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि नोएडा इण्टरनेशनल एयरपोर्ट की स्थापना से औद्योगिक अवस्थापना का संरचनात्मक विकास होगा, जिससे रोजगार के अवसर बढ़ेंगे, विनिर्माण एवं निर्यात को प्रोत्साहन मिलेगा तथा हवाई यातायात सुगम होगा, साथ ही पर्यटन में भी उल्लेखनीय वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि इस एयरपोर्ट के निकट कई औद्योगिक सेक्टरों का विकास यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में हुआ है। आनेवाले दिनों में यह क्षेत्र सबसे बड़ा औद्योगिक और सर्विस सेक्टर की गतिविधियों का केंद्र बनेगा।

जेवर एयरपोर्ट के सम्बन्ध में सीईओ डा अरूणवीर सिंह, नोडल ऑफिसर शैलेंद्र भाटिया और जुरिक एयरपोर्ट की कम्पनी यमुना इण्टरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ क्रिस्टाफ शेल्लमन्न के द्वारा प्रस्तुतीकरण के माध्यम से विस्तृत जानकारी मुख्यमंत्री योगी के समक्ष प्रस्तुत की गयी। उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट का विकास दो स्टेज में होगा, प्रथम स्टेज में यह एयरपोर्ट दो रन-वे का होगा, जो दूसरे स्टेज में बढ़ कर पाँच रन-वे का हो जाएगा। दो रन-वे का यह एयरपोर्ट 70 मिलियन यानी 7 करोड़ वार्षिक यात्रियों की क्षमता का होगा और इस पर लगभग 30 हजार करोड़ रुपए खर्च होगे। इसका विकास चार चरणो में होगा। प्रथम चरण में वर्ष 2023-24 में 12 मिलियन यानी 1 करोड़ बीस लाख वार्षिक यात्रियों की क्षमता का यह एयरपोर्ट प्रारम्भ में एक रनवे का होगा, जो वर्ष 2031 में बढ़कर 30 मिलियन यानी 3 करोड़ यात्रियों की वार्षिक क्षमता का और दो रन वे का हो जाएगा। वर्ष 2036 में यह 50 मिलियन और वर्ष 2040 में यह 70 मिलियन यानी 7 करोड़ यात्रियों की वार्षिक क्षमता का हो जाएगा। एयरपोर्ट का निर्माण ईपीसी कॉंट्रैक्टर टाटा प्राइवेट लिमिटेड कर रही है। वर्तमान में टर्मिनल बिल्डिंग और रन-वे का निर्माण प्रारम्भ हो चुका है। माह सितम्बर 2024 में एयरपोर्ट का निर्माण पूर्ण हो जाएगा। एयरपोर्ट के विस्तारीकरण के क्रम में दूसरे स्टेज में तीन रन वे और बनाए जाएँगे। तीसरा रन-वे 1365 हेक्टेयर में, चैथा रन-वे 1318 हेक्टेयर और पाँचवा रन-वे 735 हेक्टेयर में बनाया जाएगा। यहाँ यह उल्लेखनीय है कि तीसरे रन-वे के निर्माण के लिए आवश्यक 1365 हेक्टेयर भूमि के अधिग्रहण के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने अनुमति के साथ बजट भी उपलब्ध करा दिया है और अधिग्रहण की प्रक्रिया प्रारम्भ हो चुकी है। इस अवसर पर पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह, मण्डलायुक्त/मुख्य कार्यपालक अधिकारी ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण सुरेन्द्र सिंह, जिलाधिकारी सुहास एल0वाई0 एवं अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहें।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने सघन भ्रमण के दौरान दूसरे चरण में एक्स्पो मार्ट ग्रेटर नोएडा पहुंचे जहाॅ पर वल्र्ड डेरी सम्मिट 2022 का शुभारम्भ 12 सितम्बर को प्रधानमंत्री मोदी के कर कमलों द्वारा किया जाना प्रस्तावित है। मुख्यमंत्री योगी ने हैलीपेड, प्रदर्शनी हाॅल एवं मुख्य कार्यक्रम स्थल सभागार का गहन स्थल निरीक्षण किया। उसके उपरांत मा0 मुख्यमंत्री योगी ने एक्स्पो मार्ट की सभागार में पुलिस प्रशासन, इण्डियन डेरी फेडरेशन एवं अन्य सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक करते हुये समस्त अधिकारियों को स्पष्ट किया कि यह उत्तर प्रदेश का सौभाग्य है कि 1974 के उपरांत वल्र्ड डेरी सम्मिट 2022 गौतमबुुद्धनगर जनपद के एक्स्पो मार्ट में सम्पन्न होने जा रहा है और इस महत्वपूर्ण इवेंट का शुभारम्भ भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री जी के करकमलों के द्वारा किया जायेगा। इसमें लगभग 46 देश प्रतिभाग कर रहे है और बड़ी संख्या में विदेशी मेहमान इस कार्यक्रम में भाग लेगें। मुख्यमंत्री ने प्रशासन एवं पुलिस अधिकारियों को स्पष्ट रूप से निर्देश देते हुये कहा कि आने वाले विदेशी महमानों के प्रवास के दौरान एवं सुगमता के साथ कार्यक्रम में प्रतिभाग कर सकें, इसके लिए समस्त सम्बन्धित अधिकारीगण माइक्रो प्लान तैयार करते हुये उसी के अनुरूप कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने प्रशासनिक एवं पुलिस के अधिकारियों को यह भी निर्देश दिये कि यह एक अन्र्तराष्ट्रीय कार्यक्रम है। समस्त अधिकारीगण अपनी पूर्ण सामर्थ के साथ अपनी ड्यूटी को अंजाम देंगे और इस कार्यक्रम को ऐतिहासिक रूप में सम्पन्न कराने की कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे। इसी प्रकार उन्होंने प्रशासन एवं पुलिस के अधिकारियों को मा0 प्रधानमंत्री जी के कार्यक्रम को दृष्टिगत रखते हुये सुरक्षा से जुडे़ हुये विभिन्न बिन्दुओं पर निर्देश देते हुये सभी कार्यवाही समय रहते पूर्ण करने के लिए कहा। उन्होने यह भी कहा कि सुरक्षा से जुडे़ समस्त अधिकारीगण समय से पूर्व अपनी ड्यूटी पर उपस्थित रहकर कार्यक्रम को सफल बनाने मे अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे। उन्होंने इस अवसर पर इण्डियन डेरी फेडरेशन एवं एन0डी0डी0बी0 के अधिकारियों से कार्यक्रम के सम्बंध में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त की। आयोजकों के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री योगी को अवगत कराया कि कार्यक्रम को लेकर प्रशासन एवं पुलिस के अधिकारियों के द्वारा सम्पूर्ण सहयोग प्रदान किया जा रहा है। इस अवसर पर पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी के कार्यक्रम को लेकर सुरक्षा सम्बंधी तैयार किये गये माइक्रो प्लान की विस्तृत जानकारी मुख्यमंत्री योगी को उपलब्ध करायी।

इसी प्रकार जिलाधिकारी सुहास एल0वाई0 के द्वारा अन्र्तराष्ट्रीय कार्यक्रम को मानकों के अनुरूप सम्पन्न कराने के उद्देश्य से की गयी तैयारी के सम्बंध में विस्तार से अवगत कराया गया। मुख्यमंत्री योगी ने अपने कार्यक्रम के दौरान गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय के शैक्षिक गतिविधियों एवं अन्य कार्यो की विश्वविद्यालय के अधिकारियों के साथ गहन समीक्षा भी की।   

मुख्यमंत्री योगी के कार्यक्रम के दौरान आज उत्तर प्रदेश के औद्योगिक विकास, निर्यात प्रोत्साहन, एन.आर.आई. तथा निवेश प्रोत्साहन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता ''नंदी'', सांसद डॉ महेश शर्मा, जेवर विधानसभा के विधायक धीरेंद्र सिंह भी उपस्थित रहे।