तंत्र-मंत्र के चक्कर मे हुई थी डेढ वर्षीय बच्ची की हत्या

कासिमाबाद कोतवाली थाना क्षेत्र के मुहम्मदपुर कुसुम गांव में शुक्रवार को डेढ़ वर्षीय बालिका की हत्या तंत्र-मंत्र के चक्कर में गला घोंटकर की गई थी। इसका खुलासा हत्यारोपी मनोरोगी किशोरी ने बताया। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर चालान कर दिया।

मुहम्मदपुर कुसुम गांव निवासी महेंद्र चौहान की पुत्री सुमन चौहान अपने तीन बच्चों के साथ पिछले पांच माह से मायके में रह रही थी। शुक्रवार की दोपहर में सुमन चौहान की डेढ़ वर्षीय पुत्री आराध्या को पड़ोस की एक किशोरी तेल मालिश करने के बहाने अपने घर लेकर चली गई। मृतका की मां सुमन ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया है कि जब मेरी पुत्री आराध्या का चार बजे तक पता नहीं चला तो मैं उसको खोजने लगी।

किशोरी से पूछने पर उसने उसके बारे में बताने से इंकार कर दिया। मैं अपनी पुत्री की तलाश करते हुए किशोरी के घर के पीछे जाकर देखा तो मासूम पुत्री आराध्या मृत अवस्था में जमीन पर पड़ी हुई थी। उसके गले में फंदे का निशान लगा था।

मृतका की मां सुमन चौहान ने बताया कि किशोरी ने अपनी तबीयत ठीक करने के लिए तंत्र-मंत्र के चक्कर में मेरी पुत्री को गला घोटकर मार डाला। पुलिस ने मृतका की मां की तहरीर पर किशोरी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर चालान कर दिया।