ईएमसीटी की ज्ञान शाला में मनाया गया रक्षाबंधन का पावन पर्व।

ईएमसीटी की ज्ञान शाला में मनाया गया रक्षाबंधन का पावन पर्व।
ईएमसीटी की ज्ञान शाला में मनाया गया रक्षाबंधन का पावन पर्व।

आज ईएमसीटी की ज्ञान शाला में  रक्षा बंधन का पावन पर्व मानाया गया बच्चों ने आज एक दूसरे को राखी बांधी और सभी बच्चों से संस्था की संस्थापक रश्मि पाण्डेय को भी राखी बांधकर अपना आभार व्यक्त किया, बच्चे कहते है मेम हमारी पढ़ायी और ज़रूरतों का ध्यान रखती है इसलिए हर वर्ग और धर्म के बच्चों ने राखी बांधी।रश्मि पाण्डेय ने बच्चो को रक्षाबंधन के बारे नें बताते हुवे कहा कि रक्षा बंधन ऐसा पर्व है जो भाई और बहन की bonding पूरी तरह से unique बनाती

है.वहीं तो इस रिश्ते को एक अलग ही पहचान दिया गया है. इसकी इतनी ज्यादा महत्व है की इसे एक त्योहार के रूप में मनाया जाता है.इस त्यौहार में भाई बहन के प्यार को एक परंपरा के तरह मनाया जाता है. रक्षा बंधन एक अनोखी हिंदू त्यौहार है जिसे की केवल भारत में ही नहीं बल्कि दुसरे देशों जैसे की Nepal में भी भाई बहन के प्यार का प्रतिक मानकर खूब हर्षउल्लाश से मनाया जाता है. इस पर्व “Raksha Bandhan” को श्रावण माह के पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है. जो की अक्सर अगस्त के महीने में आता है.
रश्मि पाण्डेय ने बताया कि यह बहुत भावुक पल है जब बच्चे आप पर इतना ज़्यादा विश्वास कर रहे हो।बच्चों के प्यार को शब्दों में नहीं तोला जा सकता।